Monday, June 28, 2010

चीनी की बीमारी --लघुकथा

हृदयगति अचानक तेज हो जाने से परेशान रोगी डाक्टर के पास पहुंचा.उसे तत्काल दवा दी गयी. वह ठीक हो गया.वह ठीक हो जाने के बाद कहने लगा--" डाक्टर साहब, आज से काफ़ी पहले मुझे किसी डाक्टर ने कम चीनी खाने को कहा था. आजकल मैं काफ़ी कम चीनी खाता हूं फ़िर भी......"कहकर चुप हो गया. डाक्टर ने समझाया--"आप चीनी खाना बिल्कुल ही बंद कर दीजिये नहीं तो रक्तचाप बढ सकता है,हृदयगति रुक सकती है,हृदयाघात भी हो सकता है और भी कई तरह की बीमारियां हो सकती है--" इस पर रोगी ने कहा---"लेकिन डाक्टर साहब, यदि दवा लेता रहूं तो थोङा सा चीनी तो खा सकता हूं ना?". डाक्टर ने कहा--"नहीं...बिल्कुल नहीं, मैं बीमारी का इलाज करता हूं, मंहगाई का नही.मंहगाई से पुरा देश परेशान है लेकिन यह भी लाइलाज है.मैं आपकी सहायता नहीं कर सकता.यदि डायलासिस पे जीना चाहते हैं तो डाक्टर मनमोहन सिंहजी से इलाज करवाइये.

5 comments:

Udan Tashtari said...

सटीक लघुकथा..

kshama said...

Is pe kya comment kiya jay...?

ललित शर्मा said...

सही डॉक्टर बताया....

'उदय' said...

... बहुत खूब ... लाजवाब !!!

सूर्यकान्त गुप्ता said...

कहां छिप गये थे? लघु कथा जोरदार है। बीमारी का ईलाज है, मंहगाई का नही।